General science । Animal Tissue in Hindi । जन्तु ऊतक । Part-1 । For all ssc exam, NEET



Animal tissue को चार part में DIVIDE करते है :-

Epithelial tissue (उपकला ऊतक) Connective tissue (संयोजी ऊतक) Nervous tissue (तंत्रिका ऊतक) Muscle tissue (पेशी ऊतक)

Epithelial tissue (उपकला ऊतक) :-

उपकला (एपिथीलियम) एक अत्यंत महीन और चिकनी झिल्ली है जो शरीर के भीतरी समस्त अंगों के बाह्य पृष्ठों को आच्छादित किए हुए है। इसी का दूसरा रूप शरीर के कुछ खोखले विवरों के भीतरी पृष्ठ को ढके रहता है

Connective tissue (संयोजी ऊतक) :-

मानव शरीर में एक अंग को दूसरे अंग से जोड़ने का कार्य करता है। यह प्रत्येक अंग में पाया जाता है। यहऊतकों का एक विस्तृत समूह है। संयोजी ऊतकों का विशिष्ट कार्य संयोजन करना, अंगों को आच्छदित करना तथा उन्हें सही स्थान पर रखना है। Blood, Bone, Ligament, Cartilage , Areolar, Adipose

Nervous tissue (तंत्रिका ऊतक) :-

इसमें संवेदनाग्रहण, चालन आदि के गुण होते हैं। इसमें तंत्रिका कोशिका तथा न्यूराग्लिया रहता है। मस्तिष्क के धूसर भाग में ये कोशिकाएँ रहती हैं तथा श्वेत भाग में न्यूराग्लिया रहता है। कोशिकाओं से ऐक्सोन तथा डेंड्रॉन नाक प्रर्वध निकलते हैं। नाना प्रकार के ऊतक मिलकर शरीर के विभिन्न अंगों (organs) का निर्माण करते हैं। एक प्रकार के कार्य करनेवाले विभिन्न अंग मिलकर एक तंत्र (system) का निर्माण करते हैं।

Muscle tissue (पेशी ऊतक) :-

इसमें लाल पेशी तंतु रहते हैं, जो संकुचित होने की शक्ति रखते हैं। पेशी उत्तक भिन्न-भिन्न तन्तुओ से संचीत हुआ है, जीस में आन्तरीक-कोष अंतराल का कमी होती है।


Exam-Utility: SSC CGL, CHSL , UPPCS , MPPSC , RAILWAY EXAM , GATE , Bank PO , APTITUDE.

Download PDF at - https://www.ssccampu.in
Similar Videos

0 comments: